Ab life ke aur kareeb

घोंघा बसंत

घोंघा बसंत शब्द परम मूर्खों के लिए इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन सच तो यह है कि घोंघा सुस्त ज़रूर हो सकता है, पर मूर्ख तो बिल्कुल नहीं होता. इस वीडियो को देख के इनकी स्मार्टनेस का अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि कैसे इन्होंने ज़मीन पर रेंगने के जोखिम को धता बताते हुए, पत्तियों पे अपना आशियाना बना लिया है. लेकिन ग्रेविटी ? ये क्या होती है ?

Comments are closed.